08 सितंबर 2020

भारत में बाल-विवाह की समाप्ति: प्रेरक एवं रणनीति

भारत ने अनेकों नीतियों, कानून और कार्यक्रमों के माध्यम से बाल-विवाह समाप्त करने के अपने संकल्प को व्यक्त किया है; लेकिन फिर भी 20-24 वर्ष की युवतियों में चार में एक से ज्यादा का विवाह बचपन में हो गया था (18 वर्ष के पहले), और विवाह सम्बन्धी निर्णयों में उनकी बात न सुना जाना आम बात है | बाल-विवाह का जारी रहना भारत के 2030 तक सतत विकास लक्ष्य के लक्ष्य 5 को प्राप्त करने में एक संभावित बाधा है | नीतियों और कार्यक्रमों के संकल्प और भारत में बाल-विवाह की हकीकत में अंतर की मुख्य चुनौती, शादियां देर से करने और विवाह सम्बन्धी निर्णयों में लड़कियों की अधिक भूमिका की कार्यनीति के विषय में हमारी सीमित समझ है |   
20 फ़रवरी 2020

यूनिसेफ को दान करें और फर्क करें

                        , यूनिसेफ को दान करें और फर्क लाएं, पूरे भारत के लोगों को धन्यवाद, जो यूनिसेफ को पैसे दान करते हैं, जिससे हम हर बच्चे के लिए बेहतर स्वास्थ्य, पोषण, शिक्षा और सुरक्षा का में सहयोग करने में सक्षम हैं। 2016 में रिशिता का जन्म समय से दो माह पूर्व हो गया था और वज़न मात्र 650 ग्राम था | एस एन सी यू में इलाज़ के बाद उसका वज़न बढ़ गया और अब वह एक स्वस्थ बच्ची है | 2016 में रिशिता का जन्म समय से…, यूनिसेफ को दान करना और फर्क लाना आसान है, भारत के प्रत्येक बच्चे का सहयोग करने के लिए अभी साइन अप करें - यहाँ योगदान करने के विभिन्न तरीके बताए गए हैं: व्यक्तिगत रूप से भारत भर में सड़कों पर और मॉल में हमारी धन-संग्रह करने वाली टीमों से मिलें । कृपया ध्यान दें कि हम नकद में दान स्वीकार नहीं करते हैं। फंड जुटाने वाली हमारी साझेदार एजेंसियों से मिलें (लिंक कम करें) (नीचे दिए लिंक पर) ऑन…, हमारे धन संग्रह करने वाले भागीदारों से मिलें, यूनिसेफ भारत भर में भागीदारों के साथ काम करता है ताकि हमें सबसे कुशल तरीके से अधिक संभावित दाताओं तक पहुंचने में मदद मिल सके और यह सुनिश्चित करने में मदद करें कि हमारे पास अपने जीवन रक्षक काम को चालू रखने के लिए आवश्यक धन है। धनसंग्रह दानकर्त्ता 'एक मासिक दान शपथकर्त्ता के रूप में शामिल होने के लिए आपका आभार' - बेंगलुरु के यू बी मॉल में हमारी…